सेतुसमुद्रम

तो बात अयोध्या तक जाएगी!

 बात निकली है तो दूर तलक जाएगी !  केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को दायर हलफनामे में एक तरह से कह दिया है कि 'न राम रहे न रावन्ना, तुलसीदास गढ़ दीन्हीं पोथन्ना।'  इस स्वीकारोक्ति के बाद क्या अब यह मान लिया जाए कि राष्ट्

Syndicate content