जागरण's blog

आस्था के प्रति अनास्था

भारतीय संस्कृति और सनातन आस्था के प्रति सत्तापक्ष के दृष्टिकोण पर प्रश्नचिह्न लगा रहे है हृदयनारायण दीक्षित
 

युवराज के छह छक्कों में फ्लिंटॉफ का हाथ

डरबन। इंग्लैंड के खिलाफ बुधवार को 20-20 क्रिकेट विश्व कप के सुपर एट मुकाबले में एंड्रयू फ्लिंटॉफ के साथ हुई नोकझोंक ने युवराज सिंह के गुस्से को भड़का दिया था, जिसे इस भारतीय बल्लेबाज ने तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में मैदान

धोनी को कप्तान चुनना सही फैसला: गावस्कर

सुनील गावस्कर ने कहा कि चयनकर्ता भविष्य की ओर देख रहे है।

न दर्शक, न प्रोत्साहन फिर भी चक दे इंडिया

भोपाल। खाली पड़ा स्टेडियम, स्वर्ण पदक हासिल करने के बावजूद दर्शकों की तालियों के लिए तरसते एथलीट, इसके बावजूद उम्मीद ये कि 'चक दे इंडिया'।

औरैया में मिले 4000 वर्ष पुराने ताम्र उपकरण

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के औरैया जिले के एक गांव में पुरातत्वविदों को ऐसे ताम्र उपकरण हाथ लगे हैं जो 4000 वर्ष पुराने हो सकते हैं। इनके आधार पर उस क्षेत्र की प्रस्तावित खुदाई में मिल सकने वाले जीवाश्मों की कार्बन डेंटिंग से इलाके के सां

आर्थिक चिंतन- डा.भरत झुनझुनवाला

रिजर्व बैंक ने अपनी वार्षिक रपट में कृषि की गिरती विकास दर पर चिंता जताई है। कृषि की विकास दर 80 के दशक में 4.4 फीसदी थी, जो नौवें दशक में 3.2 रह गई और वर्तमान में 2.3 फीसदी तक गिर चुकी है। गिरती विकास दर का अर्थ है कि कृषि उत्पादन में वृद्धि

रामसेतु पर विहिप-भाजपा साथ लड़ेंगे संग्राम

संघ परिवार आपसी लड़ाई में रामसेतु मुद्दे को कतई कमजोर नहीं करेगा। आंदोलन की अगुवाई को लेकर भाजपा से होड़ के कयासों के विपरीत विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष अशोक सिंहल ने भाजपा के साथ समन्वय से यह आंदोलन चलाने का एलान कर आपसी मतभेदों

आजादी के बाद करीब आई हिंदी और उर्दू

बंटवारे के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच भले ही बेगानियत बढ़ी हो, लेकिन इस दौरान दक्षिण एशिया की दो प्रमुख जबानें हिंदी और उर्दू एक-दूसरे के करीब आई।

जब करुणानिधि ने की थी राम और रामसेतु की जय

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम करुणानिधि अगर अपनी याददाश्त पर थोड़ा जोर डालें तो उन्हें खुद समझ में आ जाएगा कि पहले उनके बोल क्या थे, अब क्या हो गए हैं। मामला भगवान राम और रामसेतु के अस्तित्व का है। उन्हीं के मुख्यमंत्रित्व काल में प्

त्रिपुरा- सुभाषिनी अली सहगल

जब भी कहीं बम विस्फोट होता है या किसी आतंकवादी घटना की खबर आती है तो मरने वालों के शरीर के छितराए अंग, उनके परिवार वालों का असहनीय दु:ख और घायलों की दहशत भरी आंखें देखी नहीं जातीं। हर ऐसी घटना के बाद यह सुनने को मिलता है कि आगे ऐसा नह

Syndicate content