युवराज के छह छक्कों में फ्लिंटॉफ का हाथ

डरबन। इंग्लैंड के खिलाफ बुधवार को 20-20 क्रिकेट विश्व कप के सुपर एट मुकाबले में एंड्रयू फ्लिंटॉफ के साथ हुई नोकझोंक ने युवराज सिंह के गुस्से को भड़का दिया था, जिसे इस भारतीय बल्लेबाज ने तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में मैदान के चारों ओर छह छक्के जड़कर निकाला। युवराज के इस विस्फोटक प्रदर्शन ने उन्हे गारफील्ड सोबर्स, रवि शास्त्री और हर्शल गिब्स के साथ रिकार्ड बुक में जगह दिला दी।
 
   युवराज ने भारत की इंग्लैंड पर 18 रन से जीत के बाद कहा, 'मुख्य गेंदबाज के एक ओवर में छह छक्के जड़ना वाकई सुखद अहसास है। इसके लिए मैं भगवान का शुक्रिया अदा करता हूं।' इस महीने की शुरुआत में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल मैदान पर छठे वनडे मैच में युवराज के एक ओवर में दिमित्रि मसकेरेनहेस ने पांच छक्के लगाए थे। अब वह छह गेंदों पर छह छक्के लगाकर काफी राहत महसूस कर रहे है। उन्होंने कहा, 'जब मेरे ओवर में पांच छक्के लगे थे तो इसके बाद मुझे जितनी संख्या में फोन आए, शायद शतक बनाने के बाद भी उतने नहीं आते। तब मैंने ईश्वर से कहा कि यह ठीक नहीं है, आपको मुझे मौका देना होगा और आज मुझे यह मौका मिल गया।' युवराज ने मैच में 16 गेंदों में 58 रन की आतिशी पारी खेली।

  
   युवराज जब बल्लेबाजी कर रहे थे तो फ्लिंटॉफ से उनकी बहस हो गई थी। युवराज ने कहा, 'निश्चित तौर पर इस प्रकरण से मुझे प्रेरणा मिली। अगर आपके खिलाफ कुछ शब्द कहे जाते है तो आप इसे बल्ले के जरिये वापस करना चाहते है और मैंने भी ऐसा ही किया। वैसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस तरह की चीजें होती रहती है। फ्रेडी शानदार आलराउंडर हैं। मैदान के बाहर हम अच्छे दोस्त है। मैच में कई बार ऐसा होता है और यह सब खेल का हिस्सा है।'
  
   यह पूछने पर कि क्या उन्होंने लगातार छह छक्के लगाने के बारे में सोचा था, युवराज ने कहा, 'चौथे छक्के के बाद मैंने सोचा कि मैं एक और छक्का लगा सकता हूं। फिर मैंने खुद से कहा कि अब मुझे छठा भी लगाना होगा क्योंकि मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है और मैं लय में भी हूं। यह वाकई अद्भुत अहसास है।' युवराज ने ब्रॉड की पहली गेंद पर लांग ऑन पर छक्का लगाया, जो सबसे लंबा शॉट था। दूसरा छक्का उन्होंने बैकवर्ड स्क्वायर लेग पर, तीसरा लांग ऑफ पर, चौथा प्वाइंट पर, पांचवां मिड विकेट पर और छठा फिर लांग ऑफ पर लगाया। युवराज ने कहा, 'इस दौरान मैंने अपना पूरा ध्यान गेंद को देखने में लगाया और उसे सीधे बल्ले से खेला। तभी मैं यह छह छक्के लगा सका। मुझे लगता है कि ब्रॉड चौथी गेंद में यार्कर के बारे में सोच रहे थे लेकिन यह फुल टास रही और मैंने इस पर बेहतर छक्का लगा दिया। मैं अपने कदमों का बेहतर तरीके से इस्तेमाल कर रहा था।'
  
   एक ओवर में छह छक्के जड़कर क्रिकेट के इतिहास में अपना नाम सोबर्स सरीखे महान खिलाड़ियों के साथ दर्ज कराने के बारे में युवराज ने कहा, 'कई लोग मुझे कहते है कि मैं सोबर्स की तरह बल्लेबाजी करता हूं लेकिन उन्होंने जो हासिल किया है मैं अभी उसका आधा भी नहीं हासिल कर सका हूं।'